झारखंड का नया लोगों वृत्ताकार बीच में अशोका स्तंभ चारों और हरियाली हाथी और पलास के फूल

0
39

झारखंड के राज्य चीन्ह का 18 साल बाद बदलने का फैसला किया गया कैबिनेट ने बुधवार 22 जुलाई 2020 को इसकी मंजूरी दी। नया राज्य चिन्ह को 15 अगस्त 2020 से झारखंड में प्रभावी किया जाएगा, अभी राज्य चिन्ह वर्ग कार है, जिसे तत्कालीन भाजपा सरकार ने 26 फरवरी 2002 के को अधिसूचित किया था। नया राज्य चिन्ह गोलाकार होगा जिसे राज्य की प्रगति का प्रतीक माना गया है। 

प्रतिकार खंडों में प्रयुक्त हरा रंग झारखंड की हरी-भरी धरती और वनसंपदा को प्रतिबिंबित करता है। इसमें दर्शाए गए हाथी राज के ऐश्वर्या परचूर प्राकृतिक संसाधन और समृद्धि के प्रतीक होंगे। पलाश का फूल राज्य के अप्रतिम प्राकृतिक सौंदर्य का परिचायक है। प्रतिकार खंड के बीच सुशोभित सूरज चित्रकारी राज्य की समृद्धि सांस्कृतिक विरासत की घोतक है चक्र के मध्य में राष्ट्रीय प्रतीक अशोक स्तंभ है जो उपबंध इस शक्तियों के तहत राज्य के संप्रभु शक्ति का घोतक है और देश के विकास में झारखंड की भागीदारी को प्रदर्शित करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here